Tuesday, 21 November 2017

I proud to be a man, वो लड़का

माँ के लिए सबसे लड़ जाता वो लड़का
पिता के कामों में मदद को आता वो लड़का
बहन को दुनिया से बचाता वो लड़का
छोटे भाई को दुनिया दिखाता वो लड़का
महबूबा को बाइक पे घुमाता वो लड़का
पत्नी के सम्मान को सबसे लड़ जाता वो लड़का
बच्चों की ख़ुशी के लिए जी जान लगाता वो लड़का

सारी उम्र अपनों की खातिर ही जीता रहा
अपने लिए कहाँ कुछ कर पाता वो लड़का👨👨
          I Proud to be a man

No comments:

Post a Comment

अस्थायी रिश्ते..

अस्थायी रिश्ते: कुछ रिश्ते गमले में उगी घास की तरह होते हैं... घास जो अचानक ही पेड़ के आस पास उग आती है उसके चारों ओर एक सुंदर हरियाली छटा ...